GPS Toll Collection System 2024: अब हाईवे पर GPS सेटेलाइट के जरिए होगा टोल कलेक्शन ?

Vansh Singh
6 Min Read

GPS Toll Collection System 2024: विदेशी Country में Toll Collection System GPS के द्वारा किया गया है, वहीं अब भारत में भी GPS Toll Collection System बहुत ही जल्द भारतीय सरकार लॉन्च करने वाली है, जिसके अंदर काफी सारे बदलाव होंगे।

जीपीएस टोल कलेक्शन सिस्टम क्या है ? ( What is GPS Toll Collection System 2024 ) जीपीएस टोल कलेक्शन सिस्टम स्थानीय निवासियों के लिए टोल फ्री रहेगा या नहीं ? जीपीएस टोल कलेक्शन सिस्टम पर टैक्स लगता है या नहीं ? इन सभी की जानकारी आपको इस GPS Toll Collection System आर्टिकल में मिलने वाली है, तो आप इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक लास्ट तक जरूर पढ़ें।

GPS Toll Collection सिस्टम क्या है ?

GPS Toll Collection सिस्टम क्या है

हाल ही में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मार्च 2024 से मौजूद टोल प्लाजा पर नई टेक्नोलॉजी के जरिए Toll Collection की पुष्टि की है, जो कि GPS Based होगी, इस पर तेजी से काम किया जा रहा है।

ताकि समय से पहले यह पूर्ण हो सके नई प्रणाली राजमार्गों पर स्थापित कैमरा के माध्यम से स्वच्चलित नंबर प्लेट पहचान कर टोल का कलेक्शन किया जाएगा, वाहन द्वारा तय की गई दूरी के आधार पर टोल प्रणाली टोल की राशि तय करेगी, और वह कटौती उन्हीं के अकाउंट से हो जाएगी।

इसमें कुछ चीजों का संदेश यह भी है, कि किसी का अकाउंट ना हो तो उसके लिए सूत्रों के मुताबिक पता चला है, कि टोल उनके घर पर उनका टैक्स रिपोर्ट पहुंच सकता है, अभी वर्तमान में Fastag, Plaza पर RFID द्वारा टैक्स को संचालित किया जाता है।

तथा कैश भी टाल को पर्ची के रूप में काटा जाता है, इसके चलते कई सारे बदलाव होने वाले हैं, वहां पर कोई वर्कर उपलब्ध नहीं होगा सेटेलाइट द्वारा या फिर कैमरा कलेक्शन द्वारा यह टोल ऑटोमेटिक काट लिया जाएगा।

GPS Toll Collection System 2024 – GPS पर Tax लगता/नहीं

इस नई तकनीक में GPS पर Tax लगता है, या फिर नहीं लगता है, आप लोग यह जरूर सर्च कर रहे होंगे, तो आप सभी को बता दें, कि जीपीएस के माध्यम से गाड़ियों की तय की गई दूरी के आधार पर टोल टैक्स वसूला जाता है।

और ऑटोमेटिक नंबर प्लेट रिकॉग्निशन सिस्टम (ऑटोमेटिक प्लेट रीडर कैमरा) के जरिए यह सब कार्य किया जाने वाला है, इसमें लागू होने के बाद गाड़ी को बिना टोल प्लाजा पर रोक हुए उसका Toll Collect किया जाएगा तो इसमें आपको कोई एक्स्ट्रा टैक्स देने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

GPS Toll Collection System 2024 – स्थानीय निवासियों के लिए टोल फ्री है ?

आप सब यह जरूर सोच रहे हैं, होंगे कि टोल नाका के पास में रहने वाले स्थानीय निवासियों के लिए टोल लगेगा या फिर नहीं तो आप सभी को बता दें, कि 20 किलोमीटर के दायरे में रहने वाले सभी लोगों को टाल नको पर शुल्क नहीं देने की प्रावधान टोल शर्तों में दिया गया है, अगर आप आसपास के इलाके से ही टाल को पार करते हैं, तो आपका शायद टैक्स नहीं लगेगा।

GPS Toll Collection System कब से शुरू होगा ?

GPS Toll Collection System 2024

भारत में इस पर काफी समय से काम किया जा रहा है, अभी हाल ही की रिपोर्ट में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बताया है, कि मौजूदा टोल प्लाजा पर नई टेक्नोलॉजी के जरिए टोल कलेक्शन की पुष्टि की जाएगी, जो कि जीपीएस बेस्ड होने वाली है इस पर काम तेजी से किया जा रहा है।

और बहुत जल्द भारत में आने वाली है, केंद्रीय मंत्री ने सूचना देते हुए बताया कि मार्च 2024 में यह टेक्नोलॉजी आपको भारत के कई सारे इलाकों में टोल प्लाजा पर देखने को मिल जाएगी।

GPS Toll Collection System 2024 – Effective/Not

इसमें होने वाली हनिया की बात करें तो आपको बता दें टोल प्लाजा पर काम करने वाले सभी कर्मी शायद अपनी जॉब को खो ड़ेंगे क्योंकि वहां पर सीधा कैमरा के द्वारा टोल को काटा जाएगा।

तो वहां पर किसी भी कर्मी की शायद आवश्यकता ना हो जिस जगह पर पांच लोग काम करते थे, वहां पर शायद एक ही व्यक्ति की आवश्यकता रहेगी तो ऐसे में सभी कर्मी को बहुत बड़ी टेंशन सी पैदा हो चुकी है।

हमारे द्वारा दी गई जानकारी GPS Toll Collection System आप लोगों को अच्छी लगी है, तो आर्टिकल को अपने दोस्तों में शेयर करें और कमेंट करके जरूर बताएं।

Read More:-

Share This Article
Follow:
वंश सिंह इस हिंदी ब्लॉग के Founder हैं, हमारे इस ब्लॉग पर आपको इन्टरनेट से जुडी हुई सभी जानकारी मिलती है, हमारा लक्ष्य है की इन्टरनेट से जुडी सभी जानकारी आपको मिलती रहे हर रोज धन्यवाद।
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *